Latest news
चेयरमैन अतुल नागपाल व उनकी धर्मपत्नी गीतांजलि नागपाल द्वारा ‘ल... अरूण वधवा ने यूनियन को दिलाया विश्वास, सरकार पर बनाया जाएगा दब... नाजायज शराब खिलाफ कसा शिकंजा, 10 दिन में दर्ज किए 42 केस, 28 आ... भाजपा पंजाब की 117 विधानसभा सीटों पर बूथ स्तर तक पार्टी का विस... देह व्यापार का धंधा करने के आरोप में जिम व अबोहर पैलेस संचालक ... आप पार्टी के नेताओं ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पुलिस द्वारा दर्ज क... लायंस क्लब विशाल ने वितरित की राशन की 31 किट्टें जानलेवा साबित हो सकता है डैड रोड पर खोदा गडढा जीएवी जैन आदर्श विद्यालय के विद्याॢथयों द्वारा रक्षा बंधन पर्व... जलालाबाद शहर को सैनिटाईज करने के लिए 11 सदस्यीय टीम का गठन

जिले में से बाहरी राज्यों के साथ संबंध रखने वाले 3069 व्यक्तियों को मुफ्त रेल -गाड़यों के द्वारा घरों को किया रवाना -संधू







फाजिलका-(दलीप दत्त)-जिले में बाहरी राज्यों से काम करने आए प्रवासी मजदूर जो कि कोविड-19 दौरान राज्य सरकार द्वारा लोक हित के लिए की तालाबंदी और कर्फ्यू की स्थिति में घर नहीं जा सके। राज्य सरकार के अहम प्रयास सदका बाहरी राज्यों से आए प्रवासी मजदूरों को घरों को भेजने के उचित प्रबंध किए गए। यह जानकारी डिप्टी कमिश्नर अरविन्द पाल सिंह संधू ने दी। उन्होंने बताया कि मिशन फतेह के अंतर्गत जिले में बाहरी राज्यों के साथ संबंध रखने वाले 3069 व्यक्तियों को मुफ्त रेल गाड़ियों के द्वारा घरों को भेजा गया। डिप्टी कमिश्नर श्री संधू ने बताया कि समूह प्रक्रिया को संपन्न करवाने के लिए जिला प्रशासन के साथ संबंधित अधिकारियों और कर्मचारियों ने राज्य सरकार के दिशा -निर्देशों मुताबिक समूह काम को पारदर्शी ढंग से संपन्न करवाया है। उन्होंने बताया कि कर्फ्यू /लाकडाउन के समय जिला प्रशासन के प्रयासों से बाहर के व्यक्तियों को राज्य सरकार के आदेशों के अंतर्गत खाने -पीने और अन्य जरूरी वस्तुएं मुहैया करवाने के लिए हर संभव कोशिश की गई। उन्होंने बताया कि जिले में अलग-अलग स्थानों से प्रवासी मजदूरों को बसों और अन्य साधनों के द्वारा बठिंडा, फिरोजपुर, लुधियाना आदि रेलवे स्टेशनों तक भी पहुंचाया गया जिससे सरकार द्वारा चलाईं गई स्पैशल रेल गाड़ियों के द्वारा प्रवासी मजदूर अपने घरों तक सुरक्षित जा सकें। डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि उतर प्रदेश के साथ संबंध रखने वाले 2099, बिहार के साथ 677, जम्मू कश्मीर के 94, उत्तराखंड के 60, वेस्ट बंगाल के 36, असाम और झारखंड के 25 -25, राजस्थान के 12, मनीपुर के 17, हरियाणा के 9, तमिलनाडु के 8, आंधरा प्रदेश के 3और केरला और महाराष्ट्र के 2-2 व्यक्तियों को बसों के द्वारा फिरोजपुर भेजा गया जो कि आगे रेलगाडी के द्वारा अपने घरों को रवाना हो गए। उन्होंने बताया कि सभी व्यक्तियों की प्राथमिक जांच करने के बाद ही रवाना किया गया जिससे कोरोना वायरस का फैलाव न हो सके। इस मौके अपने राज्यों को जाने वाले व्यक्तियों ने सरकार के जिला प्रशासन के इस प्रयास की भरपूर प्रशंसा की।

46 Views


Leave a Reply

error: Content is protected !!