Latest news
गांव चक्क जानीसर में दलित नौजवान की मारपीट के मामले में पेशाब ... गुरूद्वारा श्री सिंह सभा और पैस्टीसाईड और खाद विक्रेताओं ने वि... कृषि कानून के विरोध में किसानों द्वारा विरोध प्रदर्शन जारी व्यक्ति का कत्ल करने वाली एक परिवार के चार सदस्यों पर पर्चा दर... दहेज के लिए बहू को तंग परेशान करने वाले तीन ससुरालियों पर पर्च... धान का कुट्टल चोरी करने के मैसर्ज अक्षित राज नारंग एंड ट्रेेडि... सवना द्वारा जरूरतमन्द परिवार की लडकी के विवाह में किया गया सहय... पंजाब राज सफाई कर्मचारी कमीशन के चेयरमैन द्वारा जानीसर मामले क... अनाज मंडी में किसानों के साथ हो रही बेनियमियों के खिलाफ किसानो... 2 करोड़ रुपए की लागत से विकास कार्यो को विधायक आवला ने दी हरी ...

डिप्टी कमिश्नर द्वारा कम्बाइन संचालकों के साथ बैठक, सुपर एसएमएस से बिना नहीं चलेगी कंबाइन







फाजिलका-(दलीप दत्त)-जिले के डिप्टी कमिश्नर अरविन्द पाल सिंह संधू ने आज यहां कंबाइन मालिकों के साथ एक बैठक करके उन को पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड, नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल की हिदायतों से अवगत करवाते हुए बताया गया कि इस बार बिना सुपर एसएमएस लगी कंबाइन के साथ धान की कटाई की आज्ञा नहीं होगी। उन्होंने कहा कि यदि कोई भी कंबाइन जिसके सुपर एसएमएस न लगा हुआ तो उसको जब्त कर लिया जायेगा। डिप्टी कमिश्नर अरविन्द पाल सिंह संधू ने इस मौके कंबाइन मालिकों को कहा कि सरकार द्वारा सुपर एसएमएस लगाने के लिए सब्सिडी भी दी जा रही है। उन्होंने कहा कि जो किसान यह यंत्र लगवाने के लिए सरकारी सब्सिडी लेनी चाहते हैं वह 30 सितम्बर 2020 दिन बुधवार तक अपने ब्लाक के कृषि दफ्तर में सादे कागज पर आवेदन दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि अब तक इस संबंधी जितने भी आवेदन प्राप्त हुए थे सब केस सब्सिडी के लिए पास कर दिए गए हैं। डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि इस साल कोरोना महामारी के चलते धुआं कोरोना मरीजों के लिए बहुत घातक हो सकता है। इस लिए जरूरी है कि हम अपने मानवता प्रति फर्जों को समझते पराली को आग न लगाएं। उन्होंने कंबाइन मालिकों को रात समय धान की कटाई न करने और गीले धान की कटाई भी न करने की हिदायत की। मुख्य कृषि अधिकारी सुरिन्दर सिंह ने कहा कि विभाग कंबाइन  मालिकों, किसानों का नेतृत्व के लिए तैयार है। किसान पराली प्रबंधन संबंधी किसी भी मुश्किल के हल के लिए अपने ब्लाक कृषि दफ्तरों के साथ राबता कर सकते हैं। जिला नोडल अधिकारी सरवन कुमार ने बताया कि इस संबंधी किसान हेल्पलाइन नंबर 1800 -180 -1551 पर भी काल करके जानकारी ले सकते हैं। इस मौके एस.पी. इकबाल सिंह, कृषि अधिकारी परमिन्दर सिंह आदि भी उपस्थित थे।

36 Views



Leave a Reply

error: Content is protected !!