Latest news
गांव चक्क जानीसर में दलित नौजवान की मारपीट के मामले में पेशाब ... गुरूद्वारा श्री सिंह सभा और पैस्टीसाईड और खाद विक्रेताओं ने वि... कृषि कानून के विरोध में किसानों द्वारा विरोध प्रदर्शन जारी व्यक्ति का कत्ल करने वाली एक परिवार के चार सदस्यों पर पर्चा दर... दहेज के लिए बहू को तंग परेशान करने वाले तीन ससुरालियों पर पर्च... धान का कुट्टल चोरी करने के मैसर्ज अक्षित राज नारंग एंड ट्रेेडि... सवना द्वारा जरूरतमन्द परिवार की लडकी के विवाह में किया गया सहय... पंजाब राज सफाई कर्मचारी कमीशन के चेयरमैन द्वारा जानीसर मामले क... अनाज मंडी में किसानों के साथ हो रही बेनियमियों के खिलाफ किसानो... 2 करोड़ रुपए की लागत से विकास कार्यो को विधायक आवला ने दी हरी ...

सर्वहितकारी के विद्यार्थियों ने लगाए औषधीय पौध







फाजिलका-(दलीप दत्त)- विद्या भारती के स्वर्ण जयंती के अवसर पर सर्वहितकारी विद्या मंदिर में अलग-अलग प्रतियोगिताएं आयोजित की जा रही है। इसी के उपलक्ष्य में लाला सरनदास बूटा राम अग्रवाल विद्या मंदिर में भी विज्ञान विभाग की ओर से औषधीय पौधों पर एक परियोजना विद्यालय स्तर पर की गई। इस परियोजना के तहत कक्षा छठी से दशम तक के विद्यार्थियों को अपने घर में 5 औषधीय पौधे लगाने थे। साथ ही साथ विद्यार्थी इन पौधों के औषधीय गुण और और उसके उपयोग की जानकारी भी प्राप्त करेंगे। इस कार्य का उद्देश्य था कि जानकारी भी प्राप्त करेंगे। इस कार्य का उद्देश्य था कि विद्यार्थियों को प्रकृति को जोड़ना क्योंकि इस टैक्नालॉजी के युग में बच्चे प्रकृति से दूर होते दिखाई देते हैं। हमारी वन संपदा में कितने ही ऐसे पौधे हैं जो अपने आप में बहुत गुणकारी हैं। वैसे तो सभी पेड़ पौधे हमें लकड़ी, छाया, फल, फूल प्रदान करते हैं परंतु इनमें से बहुत से पौधे ऐसे हैं जो विशेष रूप से औषधीय गुणों से भरपूर हैं। हमारे विद्यालय ने बहुत ही मेहनत और लगने से इस परियोजना में भाग लिया। बच्चों ने तुलसी, पीपल, नीम, सदाबहार, एलोवीरा, कढ़ी पत्ता आदि पौधों का रोपण किया और इनके गुणों की जानकारी प्राप्त की। तुलसी गला खराब व बुखार में लाभदायक है। पीपल का पेड़ 24 घंटे हमें प्राण वायु प्रदान करता है। नीम का पेड़ नीम का तेल, नीम की साबुन, फोड़े-फुसियां ठीक करने में लाभदयाक है। इसका दातुन भी दांतों को कीड़ा लगने से बचाता है। ऐसे ही एलोवीरा का जूस का इसका रस स्किन को बालों को चमकदार बनाता है। सदाबहार के फल शूगर के मरीजों के लिए लाभदायक है। कढ़ी पत्ता शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाने में मददगार है। अमरूद जो है उसका फल विटामिन सी से भरपूर है। इसके पत्ते गला खराब और खांसी में लाभदायक हैं। नीबूं हमारे लिए बहुत ही फायदेमंद है। यह विटामिन सी का स्रोत है। हाईड्रेशन का कम करता है। दांतों पर इसका छिलका रगड़ने से दांत चमकदान होते हैं। विद्यार्थियों ने अपने-अपने घरों में औषधीय पौधे लगाए व उनकी फोटो खींच पर प्रधानाचार्य जी तक वहाटसएप से पहुंचाई। इसके लाभ एक चार्ट पर लिखकर सैंड किए। इस सारी प्रक्रिया में इन कक्षाओं के विज्ञान के अध्यापिकाओं ने भी सहयोग दिया। प्रधानाचार्य श्रीमती मधु शर्मा ने सभी विद्यार्थियों को बढ़-चढ़कर भाग लेने के लिए बधाई दी और भविष्य में होने वाले सारे क्रियाक्लापों में भाग लेने के लिए उत्साहित किया।

21 Views



Leave a Reply

error: Content is protected !!