Latest news

विधायक घुबाया की तरफ से फाजिल्का में 550वें प्रकाश पर्व को समर्पित होने वाले डिजिटल म्यूजियम शो की शुरुआत करवाई







Launched Digital Museum Show to be dedicated to 550th Prakash Parv at Fazilka on behalf of MLA Ghubaya

 

-28 और 29 जनवरी शाम को होगा लाईट एंड साउंड शो

-विधायक दविन्दर सिंह घुबाया ने कि जिले के लोगो को डिजीटल म्यूजियम और 28 से 29 जनवरी तक होने वाले लाइट एंड साउंड शो का हिस्सा बनने की अपील 

फाजिलका-(दलीप दत्त)-श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व मौके पंजाब सरकार की तरफ से गुरू साहिब जी के जीवन, उदासियाँ और उपदेशों के बारे अवगत करवाने के लिए शहर फाजिल्का के एम.आर. कालेज के बहुमंतवी स्टेडियम में अति आधुनिक तकनीक के साथ लबरेज डिजिटल म्यूजियम और लाइट एंड साउंड (आवाज और रौशनी) का विधायक फाजिल्का श्री दविन्दर सिंह घुबाया ने उद्घाटन करके शुभारंभ किया। 

विधायक श्री दविन्दर सिंह घुबाया की तरफ से स्थानिक एम.आर. कालेज ग्राउंड में डिजिटल म्यूजियम की शुरुआत करने मौके बड़ी संख्या में शहर निवासियों और स्कूली विद्यार्थियों ने अति-आधुनिक तकनीक वाले इस म्यूजियम में श्री गुरु नानाक देव जी के जीवन वृतांत को मल्टी मीडिया तकनीक के जरिये देखा। श्री घुबाया ने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से संगत को फाजिल्का शहर में डिजिटल म्यूजियम और लाइट एंड साउंड शो आयोजन करके गुरू साहिब के जीवन के बारे में बताया जा रहा है। उन्होंने बताया कि यह डिजिटल म्यूजियम 29 जनवरी तक सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक खुला रहेगा। 

उन्होंने बताया कि 28 और 29 जनवरी शाम को गुरू साहिब के जीवन और शिक्षाओं पर रौशनी डालते लाईट एंड साउंड शो चलेंगे, जो कि दोनों दिन शाम 6.15 से 7 बजे और रात 7 से 7.45 बजे तक होंगे। उन्होंने बताया कि रंगदार दृश्य प्रस्तुतीकरण, अति-आधुनिक लेजर तकनीक और विलक्षण ध्वनियाँ वाले 45 मिनट के लाईट एंड साउंड शो अद्भुत नजारा पेश करेंगे। उन्होंने समूह संगत को न्योता दिया कि वह इस विलक्षण नजारे का गवाह बनने के लिए हुंम-हुंमा कर पहुँचे। उन्होंने कहा कि संगत के लिए दाखिला बिल्कुल मुफ्त है और संगत शो का आनंद मनाने के लिए अपने परिवार सहित पहुँचे।  

आज डिजिटल म्यूजियम में अलग-अलग स्क्रीनों के द्वारा मल्टीमीडिया तकनीक के साथ गुरू साहिब के जीवन पर विस्तार में जानकारी दी गई। म्यूजियम में एक समय 35 व्यक्ति दाखिल हो सकते हैं और उसके बाद दूसरा बैंच इस म्यूजियम को देखता है। म्यूजियम में गुरुद्वारा जन्म स्थान श्री ननकाना साहिब के माॅडल संगत के लिए विशेष आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। म्यूजियम के अंदर और बाहर गुरू साहिब के जीवन के साथ सम्बन्धित और अलग-अलग गुरुद्वारा साहिबान की तस्वीर भी लगाई गई हैं।म्यूजियम देखने आईं संगत एक अनोखे विस्मय का एहसास कर रही हैं और संगत की तरफ से इस प्रयासों के लिए पंजाब सरकार का धन्यवाद किया जा रहा है।

इस मौके तहसीलदार फाजिलका डी.पी. पांडे, जिला शिक्षा अधिकारी पवन कुमार, पंमी सिंह के अलावा अलग-अलग स्कूलों के बच्चे और अध्यापक साहिबान हाजिर थे।

74 Views


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!