Latest news
शहर की तंग गलियों में कूड़ा उठाने के लिए 4 टाटा एसी गाडिय़ों को विधायक रमिन्दर आवला ने किया रवाना  जन्मदिन मुबारक मेरा हर काम फाजिल्का और फाजिल्का के लोगों की तरक्की के लिए: अरूण वधवा पंजाब में आप की सरकार बनाने के लिए सभी को मिल कर करना होगा काम: अतुल नागपाल लॉयन क्लब फाजिल्का विशाल मना रहा शुगर जागरूकता सप्ताह कामरेड गोल्डन पर हमला करने वाले दोषियों को निर्दोष साबित करने वाले डीएसपी जलालाबाद का कामरेडों का फू... सिविक एक्शन प्रोग्राम तहत बीएसएफ ने बांटा स्कूली बच्चों व ग्रामीणों को समान आम आदमी पार्टी नेता ने कांग्रेस और भाजपा पर लगाया किसानों की बर्बादी का आरोप टोल प्लाजा पर धरने दौरान मृत हुए बलदेव राज के परिवार के साथ दुख सांझा किया आम आदमी पार्टी द्वारा 4 ब्लाक इंचार्ज नियुकत

श्री गुरू तेग बहादुर जी के 400 वर्षीय प्रकाश पर्व को समर्पित मुकाबले जारी







फाजिलका-(दलीप दत्त)-पंजाब सरकार द्वारा श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400 वर्षीय प्रकाश पर्व संबंधी करवाए जा रहे समागमों की लड़ी में स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षा मंत्री विजय इंद्र सिंगला के नेतृत्व में करवाए जा रहे शैक्षिणक मुकाबलों के अंतर्गत सुंदर लेखन (सुलेख) मुकाबले 26 अक्तूबर से करवाए जा रहे हैं। सचिव स्कूल शिक्षा कृष्ण कुमार की देख -रेख में राज्य शिक्षा खोज और प्रशिक्षण संस्था द्वारा करवाए जाने वाले इन मुकाबलों के अंतर्गत राज्य के सरकारी स्कूलों के विद्यार्थी अपनी, प्रस्तुतीकरण के द्वारा श्री गुरु तेग बहादुर जी प्रति अपनी श्रद्धा का दिखावा करते हैं। सुलेख मुकाबलों संबंधित इबारत मुख्य दफ्तर की तरफ से जिला नोडलज अधिकारियों के द्वारा मुकाबले से पहला विद्यार्थियों तक पहुंचाई जाएगी। जिला शिक्षा अधिकारी सैकेंडरी और एलिमेंट्री डा. सुखवीर सिंह बल्ल नेशनल अवार्डी ने बताया कि सुलेख मुकाबलो की प्रस्तुतीकरण को विद्यार्थी 26 से 30 अक्तूबर तक सोशल मीडिया के अलग-अलग माध्यमों के द्वारा अपलोड करेंगे और 31 अक्तूबर रात 12 बजे तक स्कूल प्रमुख अपने-अपने स्कूल के नतीजे दिए हुए लिंक पर अपलोड करेंगे। सुलेख रचना के लिए विभाग द्वारा पंजाबी, हिंदी और अंग्रेजी में श्री गुरु तेग बहादुर जी के साथ संबंधित पैरे भेजे जाएंगे। जिनकी सुलेख रचना के लिए प्राइमरी और मिडिल विंग के लिए 40 मिनट और सेकेंडरी विंग के लिए 30 मिनट का समय होगा। प्राइमरी वर्ग के लिए 35 शब्दों वाला पैरा, मिडिल और सेकेंडरी वर्ग के लिए 50 शब्दों वाला पैरा होगा। सुलेख रचना काने, बरू या बांस की कलम के द्वारा एक रंग की सियाही के साथ की जाएगी। विभाग द्वारा दिए गए आकार अनुसार ही पेपर (शीट) का प्रयोग किया जाएगा। नोडल अधिकारी गुरछिन्दरपाल और स्वीकार गांधी ने बताया कि इन मुकाबलों को सरकारी स्कूलों के अध्यापक की प्रेरणा से बड़ी संख्या में विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया और उम्मीद है कि बाकी रहते मुकाबलों के लिए भी विद्यार्थियों का स्वीकृति बेमिसाल रहेगी।  

24 Views



Leave a Reply

error: Content is protected !!