Latest news
शिमला में गिले कूड़े से खाद बनाने के लिए बनेंगे चार प्लांट खुद बेरोजगार, लोगों को देगा रोजगार वाह रे तेरे वादे वाह रे तेरे वादे। समरबीर सिंह सिद्धू की जन आशीर्वाद रैली में उमड़े समर्थकों व वालंटियरों के सैलाब ने विरोधियों के उड़ा... 4 साल की मासूम को आवारा कुत्तों ने नोंचा ओबीसी आरक्षण पर बवाल, भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर नजरबंद एमएलए बनने की चाह ,कहीं शुरू होने से पहले ही ना खत्म कर दे राजनीतिक सफर।प्रयोग करो और फेक दो, शायद इ... केंद्रीय मंत्री सोम प्रकाश को मिला शिष्टमंडल ओडिशा में 5400 फूलों से बना सांता क्लॉज पंजाब में चुनावों से पहले बेअदबी की घटना से सूबे में माहौल खराब करने की कोशिश लुधियाना सिविल अस्पताल की स्टाफ नर्सें हड़ताल पर, सिविल सर्जन कार्यालय में दिया धरना


सरकारी हाई स्कूल ओडियां में संविधान दिवस मनाया गया I



फाजिलका-(दलीप दत्त)-पंजाब शिक्षा विभाग की हिदायत तो अनुसार सरकारी हाई स्कूल ओडियां में संविधान दिवस मनाया गया। जानकारी देते हुए स्कूल के सोशल मीडिया इंचार्ज नवदीप कुमार ने बताया कि संविधान दिवस स्कूल मुख्याध्यापक संदीप कुमार की अगुवाई में मनाया गया।

स्कूल मुख्याध्यापक संदीप कुमार ने बताया कि भारत में लोकतंत्र प्रणाली है और किसी भी देश का साशन चलाने के लिए नियमों और कानूनों की जरूरत पड़ती है। भले ही भारत 15 अगस्त 1947 को आजाद हो गया पर उस समय भारत का अपना कोई संविधान नहीं था। फिर डॉक्टर बी आर अंबेडकर की अगुवाई में 7 सदस्य कमेटी बनाई गई। जिस दिन लगभग 3 वर्षों में 11 बैठकें करके विभिन्न देशों के संविधान दो की पढ़ाई करके संविधान का खरड़ा तैयार किया और 26 नवंबर 1949 को यह खड़ा कमेटी के आगे पेश किया गया बाद में 26 जनवरी 1950 को देश का संविधान लागू किया गया। इस अवसर पर स्कूल के बच्चों में इस विषय पर प्रश्नोत्तरी करवाई गई और संविधान के नियमों को गुप्त रखने संबंधी शपथ भी ग्रहण करवाई गई।

66 Views

Leave a Reply

error: Content is protected !!