महिला डाक्टर खिलाफ कार्यवाही न करने के विरोध के तौर पर सिविल सर्जन फाजिल्का का पुतला फूका

जलालाबाद/फाजिलका-(दलीप दत्त)-डायरैक्टर एन. आर.एच.एम चण्डीगढ़ द्वारा सिविल अस्पताल जंडवाला भीमेशाह की एस.एम.ओ खिलाफ कार्यवाही करने के आदेश देने के बावजूद सिविल सर्जन फाजिल्का द्वारा कार्यवाही न करने के विरोध में आज भारतीय काम्युनिस्ट पार्टी (सी .पी. आई) के नेता कामरेड कृष्ण धरमूवाला, कामरेड सुरजीत सिंह ब्रांच सैक्ट्री, कामरेड ओम प्रकाश,कामरेड झंडा सिंह, कामरेड हरजिंदर सिंह के नेतृत्व में सिविल सर्जन का पुतला गांव धरमूवाला में फूंका गया। इस मौके रोष प्रदर्शन करते हुए नेताओं ने कहा कि जिला प्रशाशन और स्वास्थ्य विभाग को उक्त महिला डाक्टर के खिलाफ लिखित आवेदनपत्र देने के बावजूद भी सिविल सर्जन फाजिल्का और डिप्टी कमिश्नर द्वारा कोई भी कानूनी कार्यवाही नहीं की जा रही थी। नेताओं ने कहा कि उक्त महिला डाक्टर अपने स्टाफ और आम लोगों को तंग परेशान करती थी और झूठे पर्चे दर्ज करवाती था, जिस की जानकारी डीसी फाजिल्का और संबंधी सिविल सर्जन को उनके स्टाफ द्वारा कई आवेदनपत्र अलग -अलग जत्थेबंदियों और पार्टियों द्वारा दीं जा चुकीं हैं, परन्तु आवेदनपत्र देने के बावजूद भी डाक्टर बबीता के खिलाफ कोई कार्यवाही अमल में नहीं लाई गई। उल्टा उस की प्रमोशन की गई है। इस से पहले सिविल सर्जन को डाक्टर के खिलाफ डायरैक्टर एन. आर.एच. एम चण्डीगढ़ द्वारा कार्यवाही करने के लिए भी कहा जा चुका है। उक्त नेताओं ने चेतावनी देते कहा कि यदि मसले का हल तुरंत न किया गया तो जिले के डिप्टी कमिश्नर फाजलिका के इस के बाद क्रमश गांवों में पुतले फूके जाएगे

55 Views

Leave a Comment




error: Content is protected !!