Latest news
एसडीएम द्वारा व्यापार मंडल व अन्य संस्थाओं तथा लोगों को कोरोना... बीजेपी और गऊशाला सेवा समिति ने 1992 में मंदिर निर्माण को लेकर ... श्री राम मंदिर भूमि पूजा करने की पूर्व संध्या और लगाए 493 पौध पर्यावरण को बचाने के लिए बहुपर्तीय वर्ष लगाए फार्मासिस्टों और दर्जा चार कर्मचारियों का धरना 47वें दिन में श... सावन माह के आखिरी सोमवार को ठंडे ठंडे सेब की मुरब्बे का भंडारा... सरकारी प्राइमरी स्कूल सुलतानपुरा (नीम वाला स्कूल) को दूसरी बार... लोगों को अलग-अलग बीमारियों से बचाने के लिए नगर कौंसिल फाजिल्का... आप पार्टी के नेताओं ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पुलिस द्वारा दर्ज क... लायंस क्लब विशाल ने वितरित की राशन की 31 किट्टें

प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचे स्वास्थ्य सुविधाएं: डा. सरां







Children are deficient in iron in all the villages twice a week for lack of blood.

 

-स्वास्थ्य विभाग के स्टाफ ने बच्चों को बांटी गर्म टोपियां

फाजिलका-(दलीप दत्त)-ब्लॉक सीएचसी खुईखेड़ा के अंतर्गत आते सब सैंटर शतीरवाला के गांव चननपुरा के आंगनवाड़ी सैंटर के सभी बच्चों को स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों द्वारा सर्दी से बचाव हेतु गर्म टोपियां व खाने के सामान वितरित किया गया। इस अवसर पर सीनियर मैडीकल अफसर डा. इंद्रदीप सिंह सरां, ब्लाक मास मीडिया इंचार्ज सुशील बेगवांली, हैल्थ सुपरवाईजर इंद्रजीत सिंह, एएनएम रजनी बाला, हैल्थ वर्कर अमित कुमार, आंगनवाडी वर्कर व बच्चों के परिजन उपस्थित थे।

इस मौके एसएमओ डा. सरां ने सब सैंटर के स्टाफ द्वारा किए गए उक्त कार्य के प्रशंसा करते हुए कहा कि वैसे तो सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों का फर्ज है कि वह अपने ऐरिये के लोगों को स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं उपलब्ध करवाएं तथा अन्य समय-समय पर होने वाले बीमारियों से बचाव हेतु भी विस्तृत जनकारी दें। परंतु इस प्रकार बच्चों को सरकारी स्वास्थ्य सुविधाओं के अलावा अपनी ओर से मदद करना भी एक सराहनीय कार्य है। उन्होंने सब सैंटर के स्टाफ को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि इस प्रकार कार्य करने से उनका बच्चों व उनके परिजनों के बीच का रिश्ता भी अच्छा होता है तथा प्रत्येक घर तक सरकारी सुविधाएं भी आसानी से पहुंचाई जा सकती है। इसके साथ ही उन्होंने उपस्थित बच्चों के परिजनों को भी आह्वान किया कि वह बच्चों का संपूर्ण टीकाकरण समय पर करवाएं तथा सभी सरकारी सुविधाओं का पूर्ण लाभ लें।

बीईई सुशील बेगांवाली ने कहा कि बच्चों तथा उनकी मांताओं को संतुलित आहार लेना चाहिए। ताकि जो कोई भी बच्चा व माता में खून की कमी न हो। उन्होंने बताया कि सभी गांवों में बच्चों को खून की कमी न हो इस लिए सप्ताह में दो बार आईरन की खुराक दी जाती है तथा गर्भवती महिलाओं को भी आईरन की गोलियां निशुल्क की जा रही है।

157 Views


Leave a Reply

error: Content is protected !!