आशा वर्कर्स और आशा फैसीलेटर यूनियन ने डीसी दफ्तर के आगे धरना लगाकर किया प्रदर्शन

फाजिलका-(दलीप दत्त)-केंद्रीय ट्रेड यूनियन के आह्वान पर आशा वर्कर और आशा फैसीलेटर यूनियन द्वारा पूरे पंजाब में जिला हैडकवार्टरों पर धरना प्रदर्शन किया गया। जिस के अंतर्गत आशा वर्करों और आशा फैसीलेटरों द्वारा फाजिल्का के डिप्टी कमिश्नर दफ्तर के सामने धरना लगाकर जोरदार नारेबाजी करते हुए रोष प्रदर्शन किया गया इस मौके संबोधन करते सीनियर उप प्रधान पंजाब दुर्गो बाई और नीलम रानी जिला सचिव फाजिल्का ने कहा कि पंजाब सरकार आशा वर्करों और आशा फैसीलेटरों को कोई मान भत्ता नहीं दे रही। उन्होंने कहा कि यूनियन मैंबर पिछले लगभग 10-12 वर्षों से बहुत अधिक काम कर रही हैं और जब भी यूनियन की पंजाब सरकार के साथ मीटिंग होती है तो यूनियन को जवाब मिलता है कि यह केंद्र की स्कीम है। उन्होंने कहा कि स्कीम तो केंद्र सरकार की है, परन्तु आशा वर्कर और आशा फैसीलेटर काम तो पंजाब सरकार को कर दे रही हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना के दौरान यूनियन सदस्यों ने अपनी और अपनी परिवार की जान जोखिम में डालकर घर घर जाकर सर्वे किया और लोगों की स्वास्थ्य को बचाया है और पंजाब सरकार का नाम ऊंचा किया है, परन्तु अभी तक यूनियन का बझा हुआ मानभत्ता लागू नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री के साथ यूनियन की कई बार मीटिंग हुई और जिन्होंने हमें हरियाणा पैटर्न का भरोसा दिया था कि हम तुरंत लागू करेंगे। उन्होंने कहा कि हरियाणा पैटर्न की बजाय 17 अगस्त 2021 को हमारी स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू की रिहायश पर पंजाब के नेताओं के साथ मीटिंग हुई जिस में उन्होंने कहा था कि आपका 2500 रुपए सितम्बर से लागू किया जाएगा जिस का अभी तक नोटिफिकेशन जारी नहीं किया गया। उक्त नोटिफिकेशन जारी न करने पर दूसरे मांगों को लागू न करने के रोष के तौर पर आज पंजाब के हर जिले में धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आज हम डिप्टी कमिशनर के द्वारा पंजाब सरकार को मांग पत्र भेजकर मांग करते हैं कि हमारा 2500 रुपए का नोटिफिकेशन तुरंत जारी किया जाए, क्योंकि जो इनसैंटिव पर हम काम कर रहे हैं उस के साथ तो घर का गुजारा भी नहीं चलता। उन की मंत्रियों की तो रातों रात वेतन पर पैंशन बढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि यदि हमारी मांगें न मानी गई तो यूनियन द्वारा पक्के तौर पर संघर्ष तेज किया जाएगा। इस मौके बड़ी संख्या में आशा वर्कर्स और आशा फैसीलेटर उपस्थित थे।

54 Views

Leave a Comment

error: Content is protected !!