Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
Mon. Aug 19th, 2019

Punjab Varta

Hindi news Website

सोशल वैलफेयर सोसायटी फाजिल्का ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन डी.सी. फाजिल्का को सौंपा

1 min read
Spread the love

फाजिलका -(नसीब कौर/दलीप दत्त)-विश्व अंगदान दिवस के अवसर पर मंगलवार को नगर की अग्रणी समाजसेवी संस्था सोशल वैलफेयर सोसायटी का एक शिष्टमंडल सोसायटी के अध्यक्ष शशिकांत के नेतृत्व में डिप्टी कमिश्नर फाजिल्का मनप्रीत सिंह फाजिल्का को उनके कार्यालय में मिला। शिष्टमंडल जिसमें नेत्रदान प्रोजेक्ट चेयरमैन रवि जुनेजा, वित्त सचिव नरेश मित्तल, वरिष्ठ उपाध्यक्ष बाबू लाल अरोड़ा तथा सुनील सेठी शामिल थे ने मुख्यमंत्री पंजाब के नाम एक ज्ञापन दिया जिसमें मांग की गई कि 10+2 की कक्षाओं के पाठ्यक्रम में रक्तदान, नेत्रदान, अंगदान व शरीर दान संबंधी एक अध्याय जोड़ा जाए जिससे इसके प्रति युवा विद्यार्थियों में जागरूकता उत्पन्न हो व अनेको मूल्यवान जाने बचाई जा सकें। ज्ञापन में कहा गया है कि उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार भारत में प्रतिवर्ष 1-2 लाख लोगों को गुर्दा प्रत्यारोपण की आवश्यकता होती है, परन्तु केवल 5 हजार गुर्दे ही प्रत्यारोपित किए जाते हैं। इसी प्रकार 30000 लीवर प्रत्यारोपण की प्रतिक्षारत रोगियों में से केवल 1000 लीवर प्रत्यारोपित हो पाते हैं। नेत्रदान के मामले में भी नेशनल कंट्रोल ऑफ ब्लाइंडनेस प्रोग्राम द्वारा दिए गए आंकड़ों के अनुसार देश में 30 लाख रोगी कोर्निया ट्रांसप्लांट के लिए प्रतिक्षा सूची में है जबकि प्रतिवर्ष केवल 50-60 हजार मृतकों के ही नेत्रदान हो रहे हैं। रक्तदान की भी बड़ी भारी आवश्यकता रहती है, विशेषतौर से दुर्घटनाओं के पीडि़त, ऑप्रेशनों के रोगी तथा महिलाओं के प्रसव के दौरान और थैलेसिमियां के रोगियों के लिए भी रक्त की कहीं न कहीं आवश्यकता रहती है। इसी प्रकार ज्ञापन में यह भी कहा भी कहा गया है कि उन वाहन चालकों का जो नेत्रदान तथा ब्रेन डैड होने की अवस्था में अपने अंग दान करना चाहते हैं की प्रतिज्ञा का ड्राइविंग लाइसेंस पर विशेष उल्लेख किया जाए, इससे दुर्घटना होने पर नेत्रदान तथा अंगदान समय रहते किया जाना संभव हो सकेगा। ज्ञापन में यह भी उल्लेख किया गया है कि अमरीका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, स्पेन, जापान तथा न्यूजीलैंड तथा कुछ अन्य प्रतिशील देशों में ऐसी प्रतिज्ञा का ड्राइविंग लाइसेंस के ऊपर उल्लेख किया जाता है। डिप्टी कमिश्नर मनप्रीत सिंह ने सोशल वैलफेयर सोसायटी के इस कदम की प्रशंसा करते हुए इसे अनुसरणीय बताया। काबिले गौर है कि सोशल वैलफेयर सोसायटी फाजिल्का की 35 वर्ष पूर्व एक रक्तदाता ग्रुप के रूप में स्थापना की गई थी और तब से अन्य समाजसेवा के कार्यों के साथ नेत्रदान को प्रोत्साहित करते हुए गत 12 वर्षों में नेत्रदान के प्रकल्प को भी अपनाया हुआ है। सोसायटी द्वारा अब तक 426 मृतकों के नेत्रदान करवाए गए हैं जिससे 852 लोगों के जीवन में उजाला हो चुका है। सोसायटी नेत्रदान के कार्य में पंजाब की अग्रणी संस्था है तथा इसके लिए सोसायटी को अनेकों बार सरकार तथा विभिन्न संस्थाओं द्वारा सम्मानित भी किया गया है।

33 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Punjab Varta Social