Latest news
शिमला में गिले कूड़े से खाद बनाने के लिए बनेंगे चार प्लांट खुद बेरोजगार, लोगों को देगा रोजगार वाह रे तेरे वादे वाह रे तेरे वादे। समरबीर सिंह सिद्धू की जन आशीर्वाद रैली में उमड़े समर्थकों व वालंटियरों के सैलाब ने विरोधियों के उड़ा... 4 साल की मासूम को आवारा कुत्तों ने नोंचा ओबीसी आरक्षण पर बवाल, भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर नजरबंद एमएलए बनने की चाह ,कहीं शुरू होने से पहले ही ना खत्म कर दे राजनीतिक सफर।प्रयोग करो और फेक दो, शायद इ... केंद्रीय मंत्री सोम प्रकाश को मिला शिष्टमंडल ओडिशा में 5400 फूलों से बना सांता क्लॉज पंजाब में चुनावों से पहले बेअदबी की घटना से सूबे में माहौल खराब करने की कोशिश लुधियाना सिविल अस्पताल की स्टाफ नर्सें हड़ताल पर, सिविल सर्जन कार्यालय में दिया धरना


बारिश में भी 982 लोगों ने लगवाई वैक्सीन



अबोहर-कोरोना महामारी की तीसरी लहर के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए जहां 15 से 18 वर्ष वालों को वैक्सीन लगाने का अभियान शुरू हुआ है वहीं अन्य लोग भी सरकारी अस्पताल में वैक्सीन लगवाने के लिए उमड़ रहे हैं। बुधवार को बारिश के बावजूद अस्पताल में 982 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई। इसमें सबसे खास बात यह रही कि यह वैक्सीन लगवाने वालों में पहली डोज लगवाने वालों की संख्या अधिक थी।

सरकारी अस्पताल के प्रभारी डा. गगनदीप सिंह और नोडल अधिकारी डा. साहब राम ने कहा कि 15 से 18 वर्ष तक के बच्चों के माता पिता अभी भी उन्हें वैक्सीन लगवाने के लिए जागरूक नहीं है। टीकाकरण पूरी तरह से सुरक्षित है और अपने बच्चों को कोरोना की तीसरी लहर से बचाने के लिए माता पिता आगे आएं तभी हम तीसरी लहर को नियंत्रित कर सकते हैं। बुधवार को 15 से 18 आयु वर्ग के 46 किशोरों को वैक्सीन लगाई गई। वैक्सीनेशन के लिए लगाए जाएं मेगा कैंप: मल्होत्रा समाजसेवी गगल मल्होत्रा ने कहा कि केवल सरकारी अस्पताल में एक ही सेंटर पर वैक्सीन लगाई जा रही है । उन्होंने प्रशासन को टीकाकरण के मेगा कैंप लगाने चाहिए ताकि जल्द से जल्द लोगों को वैकसीनेट किया जा सके।

53 Views

Leave a Reply

error: Content is protected !!