Latest news
शहर की तंग गलियों में कूड़ा उठाने के लिए 4 टाटा एसी गाडिय़ों को विधायक रमिन्दर आवला ने किया रवाना  जन्मदिन मुबारक मेरा हर काम फाजिल्का और फाजिल्का के लोगों की तरक्की के लिए: अरूण वधवा पंजाब में आप की सरकार बनाने के लिए सभी को मिल कर करना होगा काम: अतुल नागपाल लॉयन क्लब फाजिल्का विशाल मना रहा शुगर जागरूकता सप्ताह कामरेड गोल्डन पर हमला करने वाले दोषियों को निर्दोष साबित करने वाले डीएसपी जलालाबाद का कामरेडों का फू... सिविक एक्शन प्रोग्राम तहत बीएसएफ ने बांटा स्कूली बच्चों व ग्रामीणों को समान आम आदमी पार्टी नेता ने कांग्रेस और भाजपा पर लगाया किसानों की बर्बादी का आरोप टोल प्लाजा पर धरने दौरान मृत हुए बलदेव राज के परिवार के साथ दुख सांझा किया आम आदमी पार्टी द्वारा 4 ब्लाक इंचार्ज नियुकत

महिला सशक्तिकरण और लिंग समानता स्थिर विकास की कुंजी है- डिप्टी कमिश्नर







फाजिल्का में मैगसीपा द्वारा ‘महिला सशक्तिकरण की तरफ एक कदम’ विषय पर 3 दिवसीय प्रशिक्षण प्रोग्राम का आयोजन

फाजिलका-(दलीप दत्त)-महात्मा गांधी स्टेट इंस्टिट्यूट आॅफ पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन पंजाब (मैगसीपा) द्वारा ‘महिला सशक्तिकरण की तरफ एक कदम’ विषय पर 3 दिवसीय प्रशिक्षण प्राेग्राम का आयोजन किया गया। यह प्रशिक्षण प्रोग्राम भारत सरकार के अमलों और प्रशिक्षण विभाग द्वारा लगाया गया। इस 3 दिवसीय समागम में अलग-अलग विभागों के तकरीबन 30 सरकारी कर्मचारियों ने भाग लिया। इस मौके डिप्टी कमिश्नर मनप्रीत सिंह ने कहा कि महिलाओं का सशक्तिकरण लिंग समानता को यकीनी बनाने, सेहतमंद और सद्भावना भरे समाज के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए एक महत्वपूर्ण अंग है।

 

उन्होंने कहा कि महिला सशक्तिकरण को यकीनी बनाने के प्रयासों में समाज में महिला के योगदान की सही मान्यता और जीवन के हर क्षेत्र में महिलाओं की प्रभावशाली भागीदारी खासकर लोकतंत्रीय प्रणाली को शामिल करना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकारी और निजी क्षेत्र में महिलाओं को आर्थिक तौर पर स्वै निर्भर बनाने के लिए उनको लीडरशिप की भूमिका के साथ नौकरी के और ज्यादा मौके उपलब्ध करवाए जाने चाहिएं। डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि सरकार ने नये कानून बनाकर और लोगों में जागरूकता पैदा करके महिलाओं की इज्जत की रक्षा और उत्साहित करने के लिए अलग-अलग कदम उठाए हैं। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति को अपनी सामाजिक जिम्मेदारी निभानी चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि महिलाओं से कोई भेदभाव, बेइन्साफी और घरेलू हिंसा न हो। डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि इस विषय की महत्ता को मानते हुए संयुक्त राष्ट्र ने अपने चार्टर में स्थिर विकास लक्ष्यों में लिंग बराबरी को शामिल किया है जो राजनैतिक, आर्थिक और सार्वजनिक जीवन में फ़ैसले लेने के हर स्तरांे पर महिला की सक्रिय सम्मिलन की कल्पना करता है। उन्होंने इस सरहदी जिले में इस समागम के आयोजन के लिए मैगसीपा की प्रशंसा की जो कि सामाजिक महत्ता के इस महत्वपूर्ण विषय के बारे में जागरूकता पैदा करने में सहायता कर रही है। बठिंडा के क्षेत्रीय प्राॅजेक्ट डायरैक्टर जरनैल सिंह ने हिस्सा लेने वालों के साथ बातचीत करते हुए कहा कि मैगसीपा हर वर्ष महिला सशक्तिकरण, लिंग बराबरी, आरटीआई, सेवोतम, नशा रोकथाम, इंडक्शन प्रशिक्षण समेत अलग-अलग विषयों पर लगभग 300 प्रोग्राम आयोजित करता है। पंजाब के सभी जिलों में नये सरकारी कर्मचारियों आदि की प्रशिक्षण के लिए भी प्रोग्राम आयोजित किये जाते हैं। इन प्रोग्रामों की धारणा के.बी.एस. सिद्धू विशेष मुख्य सचिव, पंजाब सरकार और डायरैक्टर जनरल, एम.जी.पी.आई.पी. और जसप्रीत तलवाड़ सैकेट्री द्वारा सृजना की गई है। उन्होंने डिप्टी कमिश्नर फाजिल्का और अन्य अधिकारियों को समागम के बढ़िया प्रबंध करने के लिए धन्यवाद किया। मनदीप सिंह कोआर्डिनेटर क्षेत्रीय केंद्र बठिंडा और अन्य विषय माहिरों ने इस 3 दिवसीय प्रशिक्षण प्रोग्राम के दौरान अलग-अलग थीमों पर भाषण दिए।

643 Views



Leave a Reply

error: Content is protected !!