Mon. Jun 24th, 2019

घुबाया ने ईवीएम मशीनों पर खड़े किए सवाल। लोकसभा हलके में जनता ने पूरा समर्थन दिया:- घुबाया

जलालाबाद-(पंजाब वार्ता ब्यूरो)-लोकसभा हलका फिरोजपुर से कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार शेर सिंह घुबाया ने जनता के फैसले का स्वागत किया व वहीं देश के लोकतंत्र को बहाल रखने के लिए लगाई गई ईवीएम मशीनों पर सवाल खड़े किए है। मीडिया को जानकारी देते शेर सिंह घुबाया ने कहा कि परिणाम को वह स्वीकार करते हैं परंतु जिस तरह पूरे लोकसभा हलके में वोटिंग का प्रतिशत रहा है वह सवालों के घेरे में है। उन्होंने कहा कि पूरी गिनती के दौरान 54-37 प्रतिशत का अनुपात रहा है। जबकि गिनती दौरान कहीं यह अनुपात कम या अधिक नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि जलालाबाद हलके के कुछ ऐसे गांव जहां यदि एक एक वोटर से पूछ लिया जाए तो वह खडे होकर उनके हक में भुगत सकते हैं परंतु उन गांवों में भी विरोधी पार्टी को लीड दिलाई गई। उन्होंने खास कर टाहलीवाला गांव का नाम लेते कहा कि यह ऐसा गांव है जो किसी भी पक्ष से अकाली दल के हक में नही भुगत सकता परंतु इस गांव में विरोधी पार्टी के हक में भुगती वोटें सवालों के घेरे में है। उन्होंने कहा कि यदि आज भी इस गांव की वोट बैलेट पेपर पर करवाई जाए तो सब कुछ स्पष्ट हो जाएगा कि किस तरह ईवीएम मशीनों के साथ सुखबीर सिंह बादल लोकसभा हलका फिरोजपुर की चुनाव जीते हैं। शेर सिंह घुबाया ने काह कि कांग्रेस पार्टी द्वारा टिकट दिए जाने के बाद ही विभिन्न विधान सभा हलकों में कांग्रेसियों ने विरोधता शुरु कर दी थी हालाकि पार्टी हाई कमान के फैसले अनुसार कुछ कांग्रेसी तो चुप हो गए परंतु कईओं ने सीधे तौर पर सुखबीर सिह बादल से मीटिंग करके सरेआम शिरोमणी अकाली दल के हक में वोट भुगताने से गुरेज नहीं किया जबकि कुछ कांग्रेस पार्टी के लीडर खुलकर समर्थन करते रहे है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी को ऐसे धोखेबाजों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए ताकि कांग्रेस पार्टी के लिए काम करने वाले वर्करों का हौंसला बना रहे। इस अवसर उन्होंने पंजाब कांग्रेस कमेटी के राज्य स्पोक्समैन राज बख्श कंबोज, कुलवंत सिंह, बलतेज सिंह बराड़, मुंशा सिंह, कुलदीप सिंह, सोनू दर्गन, दीपू कुक्कड व अन्य भी वर्कर मौजूद थे।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed