Mon. May 20th, 2019

PunjabVartaकांग्रेस छोडकऱ अकाली भाजपा में शामिल होने का सिलसिला जारी। खत्म होने के कगार पर पहुंच गया है कांग्रेस का वजूद: ज्याणी

फाजिल्का-(दलीप दत्त)- पंजाब की कांग्रेस सरकार की तरफ से फाजिल्का, फिरोजपुर और श्री मुक्तसर साहिब जिलों में कोई विकास नहीं करवाया गया। जिस कारण लोग कांग्रेस पार्टी की सरकार से परेशान हो चुके हैं और अभी से ही पंजाब में बदलाव चाहने लगे हैं। उक्त उदगार पंजाब के पूर्व सेहत मंत्री चौ. सुरजीत कुमार ज्याणी ने फिरोजपुर लोकसभा हलके से अकाली भाजपा प्रत्याशी स. सुखबीर ङ्क्षसह बादल के के पक्ष में चुनाव प्रचार करते हुए किए। श्री ज्याणी ने कहा कि पंजाब की जनता अकाली भाजपा नीतियों को पसंद करते हैं और अकाली भजापा की तरह ही हलके का विकास चाहते हैं। इन तमन्नाओं को पूरा करवाने के लिए लोग धड़ाधड़ अकाली भाजपा के साथ जुड़ रहे हैं। आज भी कई गांवों में कांग्रेसी वर्करों ने कांग्रेस को छोड़ दिया और अकाली भाजपा में शामिल होने की घोषणा करते हुए कहा कि वह फिरोजपुर लोकसभा सीट पर अकाली भाजपा प्रत्याशी स. सुखबीर ङ्क्षसह बादल को विजयी बनाने के लिए एक लहर पैदा करने की कोशिश करेंगे। अकाली भाजपा में शामिल होने पर श्री ज्याणी ने उन्हें सिरोपा पहनाया और वायदा किया कि लोकसभा हलके के तहत आने वाले जिला फाजिल्का में पूरा विकास करवाया जाएगा। आज गांव झोक डिपो लाना के महिन्द्र ङ्क्षसह, प्रीतम ङ्क्षसह, करनैल सिंह, अमरजीत सिंह सहित कई अन्यों ने कांग्रेस से किनारा करते हुए अकाली भाजपा का दामन थामा। वहीं गांव सैदो के हिठाड़ में पूर्व पंच हरमेश सिंह, पमरजीत सिंह, करनैल सिंह, सुरिन्द्र ङ्क्षसह, जंगीर सिंह आदि ने कांग्रेस को बाय बाय किया और अकाली भाजपा प्रत्याशी स. सुखबीर सिंह को विजयी बनाने का वचन दिया। इस मौके पर श्री ज्याणी ने कहा कि पिछले करीब दो सप्ताह से हजारों की संख्या में लोग कांग्रेस को अलविदा कह चुके हैं और एक दिन ऐसा आएगा कि हलके में कांग्रेस का नामलेवा कोई व्यक्ति नहीं रहेगा। इस तरह गांव नूरशाह में पूर्व सरपंच जरनैल सिंह, पूर्व सरपंच अंग्रेज सिंह, पंच खजान ङ्क्षसह, जंगीर ङ्क्षसह और बुर्ज सिंह पूर्व पंच ने भी कांग्रेस छोडकऱ अकाली भाजपा का दामन थामा। इस मौके पर भारी संख्या में अकाली भाजपा वर्कर मौजूद रहे।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed